Tuesday, September 18, 2018

Mechanical waves , non_mechanical waves यांत्रिक तरंग अयांत्रिक तरंग

Yantrik tarang ayantrik tarang kya hai
यांत्रिक तरंग:

वे तरंग जो किसी पदार्थ के माध्यम जैसे ठोस द्रव गैस में संचरित होती है यांत्रिक तरंग कहलाती है।
यांत्रिक तरंग मुख्यतः दो प्रकार की होती है
1. अनुदैर्ध्य तरंग (Longitudinal waves)
2. अनुप्रस्थ तरंग (Tranverse waves)

अनुदैर्ध्य तरंग:

जब तरंग गति की दिशा माध्यम के कणो के कम्पन करने की दिशा के अनुदिश होती है तो ऐसी तरंगो को अनुदैर्ध्य तरंगे कहते है
ध्वनि तरंगें अनुदैर्ध्य तरंगें होती है

अनुप्रस्थ तरंग:

जब तरंग गति की दिशा माध्यम के कणो के कंम्पन करने की दिशा के लंबबत होती है तो इस प्रकार की तरंगों को 'अनुप्रस्थ तरंग' कहते है

अयांत्रिक तरंग या विधुत चुम्बकीय तरंग:

वे तरंगे जिनके संचरण के लिए किसी माध्यम की आवश्यकता नही होती अर्थात तरंगे निर्वात में भी संचरित हो सकती सकती हो वे तरंगे अयांत्रिक या विधुत चुम्बकीय तरंगे कहलाती है सभी विधुत चुम्बकीय तरंगे एक ही चाल से चलती है जो प्रकाश की चाल के बराबर है।
●सभी विधुत चुम्बकीय तरंगे फोटॉन की बनी होती है।
●विधुत चुम्बकीय तरंगो की तरंग दैधर्य 10^-14 से लेकर 10^14 मीटर तक होती है।

0 comments: